HAPPY JANMASHTAMI 2020

WISHING YOU ALL HAPPY JANMASHTAMI AND

HERE ARE SOME SHAYARI, QUOTES AND POEM RELATED TO THIS :


जन्माष्टमी के इस अवसर पर,
हम ये कामना करते है की
श्री कृष्ण की कृपा
आप पर और आपके पुरे परिवार पर हमेशा बनी रहे..

janmashtami ke is avasar par,
ham ye kamna karte hai ki,
shri krishn ki kripa,
aap par aur apke pure parivar par hamesha bani rahe..


कृष्ण कहो या कहो गोविंदा
या कहो बनवारी
गोकुल में जो करे निवास
सब गोपियाँ जिन पर वारि
देवकी-यशोदा जिनकी मैया
वो हैं मेर्रे कृष्ण मुरारी

krishn kaho ya kaho govinda,
ya kaho banavari,
gokul mein jo kare nivas,
sab gopiyan jin par vari,
devaki-yashoda jinki maiya,
vo hain merre krshn murari..


पलके झुके और नमन हो जाये
मस्तक झुके और वंदन हो जाये
ऐसी नज़र, कहाँ से लाऊँ
मेरे कन्हैया, आपको याद करूँ
और आपके दर्शन हो जाये

palke jhuke aur naman ho jaye,
mastak jhuke aur vandan ho jaye,
aisi nazar, kahan se laun,
mere kanhaiya, apko yad karun,
aur apke darshan ho jaye..


बांके बिहारी का नाम लोगे, तो सहारा मिलेगा
यह जीवन न तुमको दुबारा मिलेगा
अगर डूब रही है कश्ती मझधार में
तो कृष्णा के नाम से ही सहारा मिलेगा

banke bihari ka nam loge, to sahara milega,
yah jivan na tumko dubara milega,
agar dub rahi hai kashti majhadhar mein,
to krishna ke nam se hi sahara milega..


पल पल हर पल तुमको पुकारूँ
जनम जनम से बाट निहारूं
कर दे कृपा तोपे तन मन वारु
अपने बाग़ का फुल समझ कर
प्रेम करो कृष्णा प्रेम करो कृष्णा

pal pal har pal tumako pukarun,
janam janam se bat niharun,
kar de krpa tope tan man varu,
apne bag ka phul samajh kar,
prem karo krshna prem karo krshna..


सबको नाच नचाये प्यारे कान्हा का गान
दिल को मोहित कर दे मुरली ली मीठी तान
राधा संग रास रचाए कृष्णा हर रात
तभी तो रहती हर होंठो पर कृष्णा की बात

sabko nach nachaye pyare kanha ka gan,
dil ko mohit kar de murali li mithi tan,
radha sang ras rachaye krshna har rat,
tabhi to rahati har hontho par krshna ki bat..


माखन का कटोरा, मिश्री की थाल,
मिट्टी की खुशबु, बारिश की फुहार,
राधा की उम्मीद, कन्हैया का प्यार,
मुबारक हो आपको जन्माष्टमी का त्योहार

makhan ka katora, mishri ki thal,
mitti ki khushbu, barish ki phuhar,
radha ki ummid, kanhaiya ka pyar,
mubarak ho apko janmashtami ka tyohar..


दीपक बोलते नहीं उनका प्रकाश परिचय देता है..
ठीक उसी प्रकार आप अपने बारे में कुछ न बोलें,
अच्छे कर्म करते रहें.. ठीक समय आने पर वही आपका परिचय देंगे..

dipak bolate nahin unka prakash parichay deta hai..
thik usi prakar ap apne bare mein kuchh na bolen,
achchhe karm karte rahen.. thik samay ane par vahi apka parichay denge..


कन्हैया की महीमा, कन्हैयाका प्यार
कन्हैया में श्रद्धा, कन्हैया से संसार
मुबारक हो आपको,
जन्माष्टमी का त्योहार..

kanhaiya ki mahima, kanhaiyaka pyar
kanhaiya mein shraddha, kanhaiya se sansar
mubarak ho apko,
janmashtami ka tyohar..


जन्म हुआ ब्रिज लल्ला का आज,
ब्रिज में फैला उमंग अपार,
लोग अनभिग्य थे कारनामो से उनके,
वो आया था धारा की बुझाने प्यास,
चमत्कार किये कई बालपन में,
मन हुआ पड़ा था जब सबका हतास,
मार दिए कई पापी धरा के,
तार दिए गोवर्धन महाराज,
तोड़े घमंड इंद्रा आदि के,
राधा और गोपियों संग रचाए रास,
और हमारे भोले-भंडारी तक जिसमे नाचे,
बन गोपी सूद-बुध खो कर आज,
मुरली की धुन पर झूमे जब मयूर,
तब मंद मंद मुस्काए सब देख श्याम बरण शरीरा..

कवि : अमनजी 


काल कोठरी में जन्म लिया ,
वो श्यामल मुरली वाला,
सारे रक्षक मुर्चित पड़े थे,
फैला जब जग उजियारा,
वासुदेव तब शीश उठा कर,
चले नन्द के द्वारा,
तब उमड़ घुमर कर बादल बरसे,
नदिया बन रही थी बाधा,
देख कृष्ण को आप ही फट गयी,
सेष लिए अवतारा,
छतरी बन तब रक्षा कीन्हो,
नदिया पार उतारा,
उछल उछल कर नदिया ने,
राह में पाँव पखारा,
यशोदा मैया बेसुध पड़ी थी,
तब नन्द ने फेर-बदल कर डाला,
रख कृष्ण को पास में अपने,
अपनी पुत्री को दे डाला,
लौटे वासुदेव जब कोठारिया में,
मृत्यु ने कंस पुकारा,
ले कन्या को चला मारने,
वो मामा कंश अभागा,
प्रकट हुई तब देवी रूप में,
कंश को चेतावनी दे डाला,
लगा खोज में तब वो पागल,
अपनों को मरवा डाला,
अंत में खुद भी मोक्ष पा लिया,
मामा को कलंकित कर डाला,
धूम मची तब वृन्दावन में,
आया मुरली वाला,
धन्य हुए नन्द, वासुदेव, यशोदा, देवकी
पाकर ऐसा लाला..

कवि : अमनजी 


FOR MORE SHAYARI : https://statusdairy.com/shayari/

FOR MORE INTERESTING BLOGS: https://jagatgyaan.in/

Leave a Comment