OLD HINDI SHAYARI COLLECTION

Old Hindi Shayari collection

Old Hindi Shayari, Purani Shayari, Hindi Quotes, Hindi poems, Hindi status, Status Quotes, Hindi love Shayari Images. So, update your FB story & Whatsapp status.


 Apna Hai- Hindi Shayari

तू पास भी हो तो दिल बेक़रार अपना है
की हमको तेरा नहीं इंतज़ार अपना है
मिले कोई भी तेरा ज़िकर छेड़ देते हैं
की जैसे सारा जहाँ राज़दार अपना है
वो दूर हो तो बजा तर्क -ऐ -दोस्ती का ख्याल
वो सामने हो तो कब इख्तियार अपना है
ज़माने भर के दुखों को लगा लिया दिल से
इस आसरे पर के इक गमगुसार अपना है
“फ़राज़” राहत-ऐ-जान भी वही है क्या कीजिये
वो जिस के हाथ से सीनाफिगार अपना है

Tu paas bhee ho to dil beqaraar apana hai
Ke ham ko tera nahin intazaar apana hai
Mile koee bhee tera zikar chhed dete hain
Ke jaise saara jahaan raazadaar apana hai
Wo door ho to baja tark -ai -dostee ka khyaal
Wo saamane ho to kab ikhtiyaar apana hai
Amaane bhar ke dukhon ko laga liya dil se
Is aasare par ke ik gamagusaar apana hai
“Faraaz” raahat-ai-jaan bhee vahee hai kya keejiye
Wo jis ke haath se seenaaphigaar apana hai..!

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY
OLD HINDI SHAYARI

 Tere Khwab

बड़ी मुश्किल से सुलाया था खुद को “फ़राज़” मैंने आज
अपनी आँखों को तेरे ख्वाब का लालच दे कर

Badi mushkil se sulaaya tha khud ko “faraaz” mainne aaj
Apani aankhon ko tere khvaab ka laalach de kar

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY


कहते हैं …

जख़्म को फूल तो सरसर को सबा कहते हैं
जाने क्या दौर है, क्या लोग हैं, क्या कहते हैं

Jakhm ko phool to sarasar ko saba kahate hai
Jaane kya daur hai, kya log hain, kya kahate hai

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY
OLD HINDI SHAYARI

बड़ी अजीब सी मोहब्बत थी तेरी

बड़ी अजीब सी मोहब्बत थी तुम्हारी..
पहले घायल किया…
फिर घायल कहा…
फिर घायल समझ कर छोड़ दिया..!

Badi Ajib si Moohabat the Teri

Badi ajeeb see mohabbat thee tumhaaree..
Pahale ghaayal kiya…
Phir ghaayal kaha…
Phir ghaayal samajh kar chhod diya..!

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY
OLD HINDI SHAYARI

 


इश्क़ का दस्तुर

इश्क का दस्तूर ही ऐसा है
जो इस को जन लेता है ये उसको मान लेता है
बिखर के रह गया वजूद मेरा
मै तो समझता था सवांरता है ..!

Ishq ka Dastur

Ishq ka dastoor hee aisa hai
Jo is ko jan leta hai ye usako maan leta hai
Bikhar ke rah gaya vajood mera
Main to samajhata tha savaanrata hai ..!

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY
OLD HINDI SHAYARI

दुआ इतनी करो 

किसी से इश्क़ उस हद तक रहे
ऐतबार इतना हो की शक न रहे
वफ़ा इतनी करो की बेवफाई न हो
और दुआ इतनी करो की जुदाई न हो

Dua itni karo

Kisi se ishq us had tak rahe
Aitabaar itana ho kee shak na rahe
Wafa itanee karo kee bevaphaee na ho
Aur dua itanee karo kee judaee na ho…

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY
OLD HINDI SHAYARI

 


जी चाहता है – Jee chahta hai

जी चाहता है तुम से इश्क़ भरी बात हो
चाँद तारे हो और लम्बी रात हो
एहसास हो और तुम्हारा साथ हो
यही सिलसिला तमाम रात तुम्हारे साथ हो |

Jee chaahata hai tum se ishq bharee baat ho
Chaand taare ho aur lambee raat ho
Yehasaas ho aur tumhaara saath ho
Yahi silasila tamaam raat tumhaare saath ho…

OLD HINDI SHAYARI | STATUS DAIRY
OLD HINDI SHAYARI

 

मेरे हाथों में भी प्यार की लकीरे

हुआ करती थी।

जब इश्क हुआ बेवफा  से

लकीर ही मिट गई।।।

Mere hatho me bhi pyar ki lakire

hua krti thi

jab ishak hua bevfa se

lakir hi mit gyi……


इश्क के बाजार में

जरा संभल के इश्क का  खरीददार बनना

यहां अक्सर इश्क मिलावटी होता है

Ishak ke bazar me

zra sanbhal ke ishak ka khariddar bnna

yhan aksar ishak milawti hota hai….


पहला प्यार का नशा मुझ पर भी था

यकीन प्यार पर, खुदा से ज्यादा था

प्यार झूठा निकला और खुदा भी रूठ गया।।।

Pahla pyar ka nshaa mujh pr bhi tha

ykin pyar pr,khuda se jyada tha

pyar jhutha nikla aur khuda bhi ruth gya…


ये बहती हुई हवा में

बेवफाई की बू क्यों है?

लगता है हवा किसी

बेवफा से टकराकर आई है।।।।

Ye bahti hui hwa me

bewfai ki boo kyu hai?

lgta hai hwa kisi

bewfa se takrakr aayi hai……


मुझसे नजरें चुरा के

वो  जाने लगी है

मोहब्बत के आसमां में

वो बेवफा बादल- सा उड़ रही है।।।

mujh se nzre chura ke

wo jane lgi hai

mohbbat ke aasma me

wo bewfa badal -sa ud rhi hai…


तनहाई में जी लू जरा

यह तो अब

प्यार से भी प्यारा लग रहा है।।।।

Tanhae me jee lu zra

yh to ab

pyar se bhi pyara lg rha hai..


कुछ अल्फाज लिखूं तेरे नाम का

पर तू बेवफा ही रहेगी

इसी बहाने मेरी

शायरी तो बनेगी। । ।

Kuch alfaaz likhun tere naam ka

pr tu bewfa hi rhegi

esi bahane meri

shayri to bnegi


शायर बनना था साहब

प्यार में पड़ गया

बेवफाई ने दस्तक क्या दी

शायर को शायरी आ गई।।।।।

Shayar bnna tha sahab

pyar me pd gya

bewfae ne dastk kya di

shayr ko shayri aa gyi……


मेरी डायरी, मेरी कलम

भी बेवफा हो गई

बेवफा से मिली

बेवफाई का दर्द लिखते लिखते

अब डायरी और कलम भी बेवफा हो गई।।।।।

Meri dayri,meri kalam

bhi bewfa ho gyi

bewfa se mili

bewfae ka dard likhte – likhte

ab dayri aur kalam bhi bewfa ho gyi……


अल्फाज- ए- मोहब्बत

बहुत आती थी ज़ुबां पर

अब तो उफ़!

तक नहीं जुबां पर।।।।

Alfaz-e- mohbbat

bahut aati thi zuba pr

ab to uff

tak nhi zuba pr


इश्क के सफर में

इश्क के मुसाफिरों का

अक्सर बेवफाई के चौराहे में

इश्क वाले कदम रुक जाया करते हैं।।।।।

Ishak ke safar me

ishak ke musafiro ka

akashar bewfaai ke chorahe me

ishak wale kadam ruk jaya krte hai…….

-:Shayar- Uttam mahato:-


आज कुछ लिखते हैं कलम से

जरा गौर कीजिएगा।

मैं कभी दीवाना था किसी का

Ignore मत कीजिएगा

सुना है शोर मचा रखी है तू

अपनी गली में

अरे मैं भी रहता हूं उसी गली में

जरा गौर कीजिएगा |||||||

 

Aaj kuchh likhte hai kalam se,

zra gor kijiyega …..

mai kabhi diwana tha kisi ka,

ignore mt kijiyega…

suna hai shor macha  rakhi hai tu

apni gli me ,

are me bhi rhta hun us gli

zra gor kijiyega…

-:Shayar – Jiten ji:-


 

Read More Love Sharyari

Download Status Dairy App

 

Leave a Comment